Fall-army-worm-attack.jpg

मक्की की फसल पर फॉल आर्मी वर्म कीट का हमला, किसान चिंतित

HNN/ ऊना

जिला में फॉल आर्मी वर्म कीट ने मक्की की फसलों को चपेट में लेना शरू कर दिया है। मक्की की फसलों पर विनाशकारी माने जाने वाले कीट “फॉल आर्मी वर्म” के नुक्सान का बड़ा खतरा मंडरा रहा है। जिला के कई क्षेत्रों में इन कीटों का दल फसलों को तबाह करने पहुंच चुका है जिससे किसान खासे परेशान है।

किसानों की माने तो पिछले साल इस कीट के हमले से फसले तबाह हुई थी और इस बार फिर से इस कीट ने फसलों पर हमला करना शुरू कर दिया है। बता दें कि क्षेत्र में 1,500 हेक्टेयर से अधिक भूमि पर मक्की की फसल लगाई जाती है और इससे ही किसान अपनी आर्थिकी मजबूत करते है। लेकिन फॉल आर्मी वर्म नामक यह कीट फसलों को चट करने लगा है।

किसानों द्वारा खेतों में लगाए गए मक्की के पौधे जैसे-जैसे बड़े हो रहे हैं वैसे-वैसे इस कीट का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। उधर, कृषि विभाग के उपनिदेशक डॉ. कुलभूषण धीमान ने कहा कि मक्की फसलों पर फॉल आर्मी वर्म नामक कीट ने हमला करना शुरू कर दिया है। कहा कि किसान फसल पर कीटनाशक का छिड़काव करें।

फॉल आर्मी वर्म कीट कैसे पहुँचाता है नुक्सान
मक्की बीज बोने के महज 15 दिनों के बाद ही फॉल आर्मी वर्म कीट झिल्ली के रूप में आकर फसल को बर्बाद कर देता है। अगर एक बार इस कीट का आक्रमण खेत में हो गया तो फिर कोई दवा काम नहीं करती। यह कीट पूरे साल बना रहता है। आसपास मक्की न मिलने पर यह कीट दूसरी फ़सलों जैसे धान, गन्ना, कपास और सोयाबीन आदि पर चला जाता है।


Posted

in

,

by

Tags: