नारी सुरक्षा सुनिश्चित करने को जिला पुलिस को सौंपा ज्ञापन

BySAPNA THAKUR

Mar 1, 2022
Memorandum-submitted-to-dis.jpg

HNN/ बद्दी

इंटक प्रदेशाध्यक्षा बबलू पंडित व समाजसेविका पूनम शर्मा की अगुवाई में स्थानीय व कामगार महिलाओं का एक प्रतिनिधिमंडल डीएसपी साहिल अरोड़ा से मिला। महिलाओं से साथ बढ़ते दुर्व्यवहार व नारी शक्ति की सुरक्षा का लेकर प्रतिनिधिमंडल ने ज्ञापन सौंपकर गश्त बढ़ाने समेत अन्य मांगे उठाई। ज्ञापन में महिलाओं ने कहा कि बीबीएन में देश-प्रदेश की हजारों महिलाएं यहां के उद्योगों, निजी व सरकारी क्षेत्र में अपनी सेवाएं दे रही हैं।

लेकिन पिछले कुछ दिनों से यहां नाबालिग बच्चियों व महिलाओं के साथ बढ़ते दुर्व्यवहार, छेड़छाड़, किडनैपिंग व दुष्कर्म के मामलों से नारी शक्ति डरी हुई है। ज्ञापन के माध्यम से महिलाओं ने शाम 6 बजे से रात 10 बजे तक पुलिस गश्त बढ़ाने की मांग उठाई। महिलाओं ने कहा कि शाम के समय विभिन्न वाहनों के माध्यम से पुलिस गश्त करे और इस दौरान सायरन का प्रयोग करे। जिससे अपराधिक मानसिकता के लोगों में पुलिस का डर पैदा होगा।

वहीं प्रतिनिधिमंडल ने जिला पुलिस बीबीएन के माध्यम से प्रदेश सरकार से यहां पर अतिरिक्त पुलिस बल व एक बटालियन लगाने की भी मांग की। महिलाओं ने कहा कि बीबीएन इतना बड़ा औद्योगिक क्षेत्र है और शाम ढलते यह औद्योगिक क्षेत्र अंधेरे में डूब जाता है और सुनसान रास्तों पर महिलाओं को डर के साये में अपने गंतव्य पर पहुंचना पड़ता है। ऐसे में प्रदेश सरकार व जिला पुलिस उद्योगों को देर शाम की शिफ्ट के दौरान महिलाओं को उनके गंतव्य तक सुरक्षित पहुंचाने के आदेश जारी किए जाएं।

टोल फ्री नंबर व महिलाओं के लिए ऐप की उठाई मांग
पूनम शर्मा, बबिता मैहता, राधा देवी, कुसुम देवी, बिंदू देवी, पार्वती, मालती, रिंकू देवी, सोनी देवी, मुन्नी, कन्यावति, ऊर्मावती, रीता, रेनू व कांति ने टोल फ्री नंबर, महिलाओं के लिए विशेष मोबाईल नंबर व ऐप की व्यवस्था करने की भी मांग उठाई। ताकि किसी भी संकट या परेशानी की स्थिति में कामगार व स्थानीय महिलाओं पुलिस को सूचित कर सकेें। महिलाओं ने ज्ञापन में यह भी कहा कि एक विशेष पुलिस टीम महिलाओं की सुरक्षा के लिए गठित की जाए जो सूचना देने पर तुरंत मौके पर पहुंचकर महिलाओं की सुरक्षा को सुनिश्चित कर सके।

उधर, डीएसपी साहिल आरोड़ा ने बताया कि शाम के समय औद्योगिक क्षेत्रों में गश्त बढ़ाने के आदेश सभी थाना प्रभारियों को जारी कर दिए गए हैं। गश्त के दौरान सायरन का जो सुझाव आया है इसके लिए भी आदेश जारी कर दिए जाएंगे। सुरक्षा पुलिस और पब्लिक की सहभागिता से सुनिश्चित करने का प्रयास किया जा रहा है। पिछले दिनों जो मामले सामने आये हैं उसमें पुलिस ने तुरंत एक्शन लेते हुए गुनहगारों को सलाखों के पीछे पहुंचाया है। ज्ञापन में कुछ मांगे सरकार से की गई हैं जिसे सरकार तक पहुंचाया जाएगा। उन्होंने प्रतिनिधिमंडल को नारी सुरक्षा सुनिश्चित करने का भरोसा दिलाया।

The short URL is: