Rumit, Madan, Rajat, Pankaj, Chetan or someone else will be the general category president

रूमित, मदन, रजत, पंकज, चेतन या फिर कोई और होगा सामान्य वर्ग अध्यक्ष

राजनीतिक समीकरणों के आधार पर सामान्य वर्ग भाजपा का ब्लाइंड चेक

HNN / शिमला

हिमाचल प्रदेश सामान्य वर्ग आयोग के गठन पर सरकार की मुहर के बाद अब अध्यक्ष पद पर छक्का पंजा लड़ाने की कवायद शुरू हो चुकी है। अलग-अलग नामों के पैरोकार राजनीतिक जोड़-तोड़ के साथ अपने चहेतों की जुगत बढ़ाने में जुट गए हैं। हालांकि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर नें मुख्यमंत्री बनने के साथ ही सामान्य वर्ग बनाए जाने का विचार रखा था। मगर इस आयोग के गठन को लेकर क्षत्रिय संगठन प्रदेश अध्यक्ष रुमित ठाकुर, सवर्ण मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष मदन ठाकुर ने संयुक्त रूप से इसे एक बड़े आंदोलन का रूप दिया।

रूमित और मदन ठाकुर ने नोटा का सोठा ऐसा चलाया कि प्रदेश के उपचुनाव में जहां प्रदेश का सवर्ण वर्ग एकजुट नजर आया तो वही सरकार को मुंह की खानी पड़ी थी। अब आयोग का लगभग गठन हो चुका है ऐसे में कुछ महीनों की सत्ता वाली सरकार सामान्य वर्ग को राजनीति का ब्लाइंड चेक मानते हुए कैश कर सकती है। हालांकि प्रदेश का अधिकतर सवर्ण वर्ग रुमित का पक्षधर है। मगर भाजपा के लिए तन मन धन से समर्पित होने वाले स्वर्गीय नरेंद्र ब्रागटा के पुत्र चेतन की नाराजगी को दूर कर इस विधानसभा क्षेत्र में 2022 का दांव खेला जा सकता है।

क्योंकि चेतन के परिवार की चौकड़ी और संबंध मंडी संसदीय क्षेत्र तक फैले हुए हैं। एप्पल लॉबी पर चेतन का परिवार और क्षेत्र के लोगों की सिंपैथी आज भी बरकरार है। तो वही प्रदेश भाजपा के मीडिया सह प्रभारी रजत ठाकुर की संगठन के प्रति निष्ठाओं का इनाम अध्यक्ष पद के लिए भी हो सकता है। अब यदि भाजपा के लिए जिला सिरमौर के कांग्रेस के गढ़ में अगर सेंधमारी करनी है तो इस विधानसभा क्षेत्र से ताल्लुक रखने वाले पंकज ठाकुर एक बड़े दावेदारी भी माने जाते हैं। पंकज ठाकुर गिरी पार से लेकर गिरी आर तक युवा वर्ग पर बड़ी दमदार पकड़ रखते हैं।

यही नहीं भाजपा विचारधारा के साथ जुड़े रहकर पंकज प्रदेश अध्यक्ष सुरेश कश्यप व मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर में बड़ी आस्था रखता है। हालांकि पंकज ठाकुर मीडिया से भी जुड़ा हुआ है बावजूद इसके श्री रेणुका जी विधानसभा क्षेत्र में भाजपा के भावी प्रत्याशी को पंकज ठाकुर का बड़ा सहारा भी मिल सकता है। हालांकि आम लोगों में पंकज का नाम इतना चर्चित नहीं है मगर युवा वर्ग में पंकज बड़ी मजबूत पैठ बना चुका है। हालांकि पंकज ठाकुर की इस पद के लिए कोई पैरों कारी भले ना कर रहा हो मगर राजनीतिक समीकरणों के ऊपर जिला सिरमौर का रेणुका जी विधानसभा क्षेत्र जहां भाजपा के लिए एक बड़ी चुनौती है तो यह नाम अपने आप में एक प्रबल दावेदारी भी रखता है।

बरहाल अब देखना यह होगा कि क्या रुमित ठाकुर, मदन ठाकुर जो अभी तक किसी पार्टी विशेष के साथ जुड़े ना होकर बल्कि सवर्ण वर्ग के लिए आंदोलन छेड़े हुए थे क्या भाजपा इन दोनों नामों में से किसी एक को 2022 के लिए केवल सवर्ण वर्ग का समर्थन लेने के लिए कैश करेगी या फिर भाजपा के पिटारे में कोई और नाम अभी छुपा हुआ है।


Posted

in

,

by

Tags: