HNN / शिमला

मुख्य निर्वाचन अधिकारी, हिमाचल प्रदेश, सी. पालरासु ने बताया कि मंडी लोकसभा क्षेत्र तथा फतेहपुर, अर्की और जुब्बल-कोटखाई विधानसभा क्षेत्रों के उप-निर्वाचन के दृष्टिगत मतगणना पर्यवेक्षकों की नियुक्ति कर दी गई है। उन्होंने बताया कि मंडी लोकसभा क्षेत्र के उप-निर्वाचन के लिए 11 मतगणना पर्यवेक्षक तैनात किए गए हैं। इसके अतिरिक्त फतेहपुर, अर्की और जुब्बल-कोटखाई विधानसभा क्षेत्रों के उप-निर्वाचन के लिए तीन मतगणना पर्यवेक्षक तैनात किए गए हैं।

इन तीनों विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों में तैनात सामान्य पर्यवेक्षकों को ही मतगणना पर्यवेक्षक का भी दायित्व दिया गया है। मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि उप-निर्वाचन-2021 के अंतर्गत 30 अक्तूबर, 2021 को मतदान संपन्न करवाया जाएगा और मतगणना के लिए 2 नवंबर, 2021 की तिथि निर्धारित की गई है। मतगणना कार्य पूर्ण करने के लिए मंडी संसदीय क्षेत्र में स्थापित विभिन्न मतगणना केंद्रों में 125 मतगणना टेबल तथा निर्वाचन अधिकारी और सहायक निर्वाचन अधिकारी के 19 टेबल लगाए जाएंगे।

फतेहपुर विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के मतों की गिनती के लिए 10 मतगणना टेबल और निर्वाचन अधिकारी व सहायक निर्वाचन अधिकारी के दो टेबल लगाए जाएंगे। अर्की विधानसभा क्षेत्र के मतगणना केंद्रों में 10 मतगणना टेबल तथा निर्वाचन अधिकारी व सहायक निर्वाचन अधिकारी के दो टेबल लगाए जाएंगे तथा जुब्बल-कोटखाई विधानसभा क्षेत्र के मतों की गिनती के लिए 7 मतगणना टेबल तथा निर्वाचन अधिकारी व सहायक निर्वाचन अधिकारी के दो टेबल स्थापित किए जाएंगे। 

उन्होंने बताया कि सभी संबंधित जिला निर्वाचन अधिकारियों व सहायक निर्वाचन अधिकारियों को मतगणना कार्य के सुचारू संचालन के लिए सभी तैयारियां समयबद्ध पूर्ण करने के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं।