Snake-bite-cases-increasing.jpg

सावधान! हिमाचल में बढ़ रहे स्नेक बाइट के मामले, एडवाइजरी जारी…

HNN/ शिमला

हिमाचल प्रदेश में स्नेक बाइट के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। राज्य में हर साल सैकड़ों लोगों की सर्पदंश के कारण मृत्यु हो रही है। बता दें कि मानसून सीजन के दौरान सर्पदंश के अत्यधिक मामले सामने आते हैं। अधिक बारिश के दौरान चूहों का शिकार करने व बिलों में पानी भरने के कारण सांप घरों के अंदर तक भी पहुंच जाते हैं। इस साल की बात करें तो अभी तक हिमाचल में कई लोगों की सर्पदंश से मृत्यु हो चुकी है जिनमें छोटे बच्चे भी शामिल हैं।

लापरवाही के कारण लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ता है। कई लोग झाड़-फूंक के चक्कर में पड़ जाते हैं जिसके चलते पीड़ित को जब तक अस्पताल पहुंचाया जाता है तब तक वह दम तोड़ चुका होता है। सर्पदंश से पीड़ित मरीज को जल्द से जल्द अस्पताल पहुंचाने की आवश्यकता होती है। इसके साथ-साथ लोग अगर कुछ बातों का ध्यान रखें तो मरीज की जान बच सकती है। वही पुलिस प्रशासन द्वारा भी इसको लेकर एक एडवाइजरी जारी की गई है। साथ ही लोगों को एहतियात बरतने की सलाह दी गई है।

इन बातों का रखें ख्याल

  1. जहां आप देख नहीं सकते वहां हाथ एवं पाँव न डालें।
  2. लम्बे (टखने तक की लंबाई) जूते, मोटे मोजे और लंबी ढीली पैंट पहनें, खासकर जब घास वाले क्षेत्र में जा रहे हों।
  3. जहां आप अपने पैर नहीं देख सकते, उस क्षेत्र में प्रवेश करने से पहले छड़ी से जांच कर लें। यदि पर्याप्त चेतावनी दी जाए तो सांप हमला करने के बजाए आपसे बचने की कोशिश करेगा।
  4. जब संभव हो, लट्ठों और चट्टानों पर कदम रखें, उनके ऊपर से छलांग न लगाएं क्योंकि आप उनमें छिपे हुए सांप को हमला करने के लिए उकसा सकते हैं।
  5. घनी घास वाले रास्तों में चलने से बचें।
  6. दरवाज़े पर कदम रखते समय सावधान रहें। सांप इमारतों के किनारे रेंगना पसंद करते हैं जहां वे एक तरफ सुरक्षित रहते हैं।
  7. अंधेरे में इधर-उधर जाने से बचें, अगर आप रात में बाहर हैं तो हमेशा टॉर्च का इस्तेमाल करें, क्योंकि ज्यादातर सांप गर्म रातों में सक्रिय होते हैं।
  8. कभी भी सांप को उठाने की कोशिश न करें, भले ही वह मर गया हो। एक सांप की सजगता क्षमता सांप के मरने के एक घंटे बाद भी हमला करने का कारण बन सकती है।
  9. अगर आपका किसी सांप से सामना हो तो उसके रास्ते से हट जाएँ, सांप को मारने की कोशिश न करें।
  10. घर में सांप मिले तो वन्यजीव विभाग से संपर्क करें और उनके निर्देशों का पालन करें।

Posted

in

,

by

Tags: