HNN/ पांवटा

जिला सिरमौर के उपमंडल पांवटा साहिब में बीसीसीआई कोषाध्यक्ष अरुण धूमल ने सोमवार को प्रदेश की पहली महिला क्रिकेट अकादमी का शुभारंभ किया। इस दौरान लोगों को संबोधित करते हुए अरुण धूमल ने बताया कि प्रदेश की लड़कियों में भी क्रिकेट में भविष्य बनाने की अपार संभावना मौजूद हैं, लेकिन बावजूद इसके बेहद कम ही लड़कियां इस दिशा में आगे बढ़ी हैं। क्रिकेट के प्रति लड़कियों की रुचि बढ़ाने व उन्हें इस खेल की बारीकियां सीखाने के लिए पांवटा साहिब में जिला की पहली क्रिकेट अकादमी खुल गई है।

इतना ही नहीं इस अकादमी में बीपीएल श्रेणी की लड़कियों के लिए फ्री सुविधा रहेगी। उन्होंने बताया कि हिमाचल क्रिकेट के क्षेत्र में पूरी दुनिया में जाना जाता जाता है जहां देश का सबसे खूबसूरत क्रिकेट स्टेडियम धर्मशाला में मौजूद है। उन्होंने बताया कि महिला अकादमी तो पांवटा में एक शुरुआत है अभी हिमाचल व खासतौर से सिरमौर में क्रिकेट को और बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने बताया कि पांवटा में जमीन उपलब्ध हो तो अंतरराष्ट्रीय खेल स्टेडियम जरूर बनेगा जिसका शिलान्यास और कोई नहीं बल्कि खेल मंत्री अनुराग ठाकुर के हाथों करवाने की कोशिश रहेगी।

हिमाचल क्रिकेट एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष अतर सिंह नेगी ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि प्रदेश की पहली महिला क्रिकेट अकादमी का शुभारंभ आज अरुण धूमल द्वारा किया गया है। बताया कि अब जिला में लड़कियां भी क्रिकेट के गुर सीख पाएंगी और देश सहित प्रदेश में जिला का नाम रोशन करेगी। बता दें कि क्रिकेट अकादमी तय मापदंडों के अनुसार लड़की की उम्र 10 से 19 वर्ष के बीच होनी चाहिए जबकि 1000 रुपए एडमिशन फीस और 400 रुपए प्रतिमाह फीस निर्धारित की गई है।