HNN / सोलन

जिला सोलन के झाड़माजरी के तहत आने वाली पंचायत मखनू माजरा में मुंह-खुर की बीमारी से एक पशुपालक के दो दुधारू गऊओं की मौत हो गई। पशुओ में अचानक फैली इस बीमारी से क्षेत्र के सभी पशुपालक घबराए हुए हैं। वहीं तीन किसानों के एक दर्जन से अधिक पशु इस बीमारी की चपेट में आए हैं।

बता दे कि यह रोग पशुओं को छोटे आंख से न दिख पाने वाले कीड़े द्वारा होता है। जिसे विषाणु या वायरस कहते हैं। मुंह-खुरपका रोग किसी भी उम्र की गायें एवं उनके बच्चों में हो सकता है। इसके लिए कोई भी मौसम निश्चित नहीं है।

कहने का मतलब यह हे कि यह रोग कभी भी गांव में फैल सकता है। उधर, पशु पालन विभाग चिकित्सक डॉ. शंकरदास ने टीम के साथ गांव का दौरा किया और बीमार पशुओं का टीकाकरण किया गया। उधर, वरिष्ठ पशु चिकित्सक डॉ. राकेश भट्टी ने बताया कि मुंह-खुर की बीमारी के चलते दो गऊओं की मौत हुई है।