A 20-year-old sick girl reached the hospital by lifting 5 kilometers from the icy road

बर्फीले रास्ते से 5 किलोमीटर उठाकर अस्पताल पंहुचाई बीमार 20 वर्षीय युवती

संगड़ाह के हड़योट गांव के लिए आज तक नहीं बनी सड़, जान जोखिम में डालकर करते हैं सफर

HNN / संगड़ाह

उपमंडल संगड़ाह की गेहल पंचायत के अंतर्गत आने वाले गांव हड़ियोट से रविवार को एक बीमारी युवती को संकरे व बर्फीले रास्ते से पीठ पर उठाकर अस्पताल ले जाना पड़ा। विडंबना यह भी रही कि, युवती को मुख्य सड़क तक पंहुचाए जाने के बाद स्वास्थय विभाग द्वारा 108 पर काल करने के बावजूद एंबुलेंस उपलब्ध नहीं करवाई गई। इसके बाद परिजन जैसे तैसे करके युवती को अस्पताल लेकर आये और उसका उपचार करवाया। उधर, स्वास्थ्य अधिकारी संगड़ाह डॉ अनुप्रिया ने बताया कि, पेट दर्द से पीड़ित 20 वर्षीय बबली पुत्री बंसीलाल की हालत अब सामान्य है।

बता दे कि दर्जन भर ग्रामीणों ने पांजड़ी कहलाने वाले पारम्परिक स्टेचर पर जिस बर्फीले दुर्गम रास्ते से उसे सड़क तक पहुंचाया उस पर आम आदमी के लिए पैदल चलना भी आसान नही है। गौरतलब है कि, गत 8 व 22 जनवरी तथा 3 फरवरी को क्षेत्र मे हुए भारी हिमपात के बाद हालांकि लोक निर्माण विभाग मंडल संगड़ाह की सभी सड़कों से बर्फ हटाई जा चुकी है, मगर ऊपरी इलाके मे रास्तों से बर्फ पिघलना शेष है। पिछले एक दशक से भाजपा व कांग्रेस नेताओं द्वारा यहां सड़क निर्माण के कईं दावे व घोषणाएं की गई, मगर विडंबना यह है कि, अब तक 6 मे से केवल डेढ़ किलोमीटर ही सड़क बनाई जा सकी है।

पंचायत प्रधान उपासना के अनुसार उनके कार्यकाल मे सिरमौर जिला परिषद अध्यक्ष सीमा कन्याल के माध्यम से इस सड़क के लिए एक लाख का बजट मिला था और पूर्व प्रधान के समय में भी 10 लाख से इस सड़क का निर्माण किया गया था। उन्होंने कहा कि, स्थानीय भाजपा व कांग्रेस नेताओं के अलावा वह मुख्यमंत्री से करीब 25 परिवारों वाली अनुसुचित बस्ती अथवा गांव हड़ियाट के लिए पंचायत का प्रस्ताव भेज बजट उपलब्ध करवाने की मांग कर चुके हैं।‌ प्रधान ने कहा कि, ग्रामीण पंचायत व लोक निर्माण विभाग को जमीन गिफ्टडीड करने को तैयार है। भलाड़ पंचायत के चुइनाधार संपर्क मार्ग से भी इस गांव के लिए सड़क बन सकती है, जिसकी दूरी महज 3 किलोमीटर तक होगी।

सिरमौर जिला परिषद अध्यक्ष सीमा कन्याल ने कहा कि, वह गेहल-ढिमाईना पंचायत मे दो सड़कों के लिए शुरुआती बजट उपलब्ध करवा चुकी है तथा हड़ियोट गांव की सड़क के शेष निर्माण कार्य को लेकर भी लोक निर्माण विभाग व प्रशासनिक अधिकारियों से बात की जाएगी। उन्होंने कहा कि, अब मार्च माह के बाद ही बजट मिलने की उम्मीद है।


Posted

in

,

by

Tags: