कोलावाला भूड़ पंचायत के ग्रामीणों ने लगाए गंभीर आरोप

HNN/ नाहन

हिमाचल प्रदेश के जिला सिरमौर की कोलावाला भूड़ पंचायत से दर्जनों गरीब परिवारों के नाम प्रधानमंत्री आवास योजना से हटाए गए हैं। इसको लेकर ग्रामीणों ने गंभीर आरोप लगाए हैं तथा इस बाबत एक शिकायत पत्र पंचायत प्रधान को सौंप कर उचित कार्यवाही करने की मांग की है।

पंचायत प्रधान रीतू चौधरी को सौंपे गए शिकायत पत्र में ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि पंचायत के तकरीबन 45 ऐसे परिवार है जिनके नाम प्रधानमंत्री आवास योजना की सूची से हटा दिए गए है। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के लिए पंचायत से 166 लोगों के नाम भेजे गए थे।

परंतु ऐसे लोग जो कच्चे मकानों में रह रहे हैं और इस योजना का लाभ उठाने के हकदार हैं उन्हें ही सूची से बाहर निकाल दिया गया है। ग्रामीणों ने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना सरकार द्वारा शुरू की गई एक ऐसी स्कीम है जिसका उद्देश्य कमजोर वर्गों को सस्ते घर प्रदान करना है।

परंतु कोलावाला भूड़ पंचायत में ऐसे परिवारों के नाम सूची से हटा दिए गए जिन्हें इस योजना की सबसे ज्यादा आवश्यकता है। उन्होंने पंचायत प्रधान से अपील की है कि इस योजना के बजट का तब तक वितरण न किया जाए जब तक इस मामले की निष्पक्ष जांच ना हो।