HNN/ संगड़ाह

लोक निर्माण विभाग मंडल संगड़ाह के अंतर्गत नाबार्ड से निर्माणाधीन जंदरायण-सनग सड़क से अवैध कब्जा हटाने मे पिछले एक माह मे विभाग व प्रशासन नाकाम रहे। इस सड़क से लाभान्वित होने वाले ग्रामीण व लोक निर्माण विभाग के एसडीओ एसडीएम संगड़ाह के पास भी उक्त मामले को लेकर पंहुचे थे, मगर कब्जा हटना शेष है। एक प्रभावशाली शख्स ने कच्चा मकान अथवा ढारा बनाकर उक्त सड़क को रोक दिया है।

इससे पूर्व गत 27 सितंबर को अधिशासी अभियन्ता संगड़ाह के कार्यालय में पेश हुए कब्जा धारक द्वारा स्वयं कब्जा हटाने की बात कही गई थी। जिसके बाद पुलिस बल के साथ जेसीबी मशीन लेकर कब्जा हटाने गई विभाग की टीम तकनीकी कारणों से बिना अतिक्रमण हटाए उल्टे पांव लौट आई थी। इस सड़क से लाभान्वित होने वाले ग्रामीणों ने कहा कि, इस बारे वह मुख्यमंत्री हेल्पलाइन पर शिकायत कर चुके हैं।

ग्रामीणों ने उक्त कब्जा न हटने तथा वर्ष 2014 से लंबित 3 करोड़ 28 लाख की लागत इस सड़क के जल्द तैयार न होने की सूरत में जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ अदालत का दरवाजा खटखटाने की भी बात कही। एसडीम संगड़ाह डॉ विक्रम नेगी ने कहा कि कार्यालय में पंहुचे लोक निर्माण विभाग के अधिकारी व ग्रामीणों द्वारा कोई लिखत शिकायत नही दी गई तथा शिकायत मिलते ही कार्यवाही होगी।

लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियन्ता संगड़ाह रतन शर्मा ने बताया कि, जल्द इस बारे एसडीम की अदालत में केस दर्ज किया जाएगा।

This error message is only visible to WordPress admins

Cannot collect videos from this channel. Please make sure this is a valid channel ID.