परस्पर समन्वय और सहयोग से बनाएं लाहौल- स्पीति को स्वच्छ 

HNN / लाहौल- स्पीति

भारत सरकार के युवा मामले और खेल मंत्रालय के तत्वावधान में नेहरू युवा केंद्र संगठन द्वारा चलाई गई स्वच्छ भारत मुहिम लाहौल- स्पीति जिले में भी 31 अक्टूबर तक चलेगी। मुहिम के तहत कार्यान्वित की जाने वाली गतिविधियों की समीक्षा को लेकर आयोजित जिला स्तरीय समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए उपायुक्त नीरज कुमार ने कहा कि परस्पर समन्वय और सहयोग से ही जिले को स्वच्छ बनाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि इस मुहिम को मात्र कुछ अवधि तक सीमित ना करके एक नियमित कार्यकलाप के तौर पर सुनिश्चित करने की भी आवश्यकता है। 

उन्होंने कहा कि इसके लिए आम जनमानस में जागरूकता का होना भी अत्यंत आवश्यक है। तभी स्वच्छ भारत की परिकल्पना को जमीनी हकीकत में उतारा जा सकता है। उपायुक्त ने इस मुहिम के तहत एकत्रित किए जाने वाले सिंगल यूज प्लास्टिक के समयबद्ध निस्तारण के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि संबंधित अधिकारी इस कचरे को मनाली के अलावा बरमाणा में निस्तारण के लिए भेजने की व्यवस्था सुनिश्चित करें ताकि इस अभियान के दौरान एकत्रित प्लास्टिक का वैज्ञानिक तरीके से निष्पादन हो सके। 

उन्होंने कहा कि इस मुहिम के लिए तय किए गए शेड्यूल के मुताबिक सभी गतिविधियों को व्यवस्थित तरीके से संचालित किया जाए ताकि मुहिम के अपेक्षित परिणाम मिल सकें। तय किए गए शेड्यूल से जो विभाग या संस्थाएं जोड़ी गई हैं, वे स्वच्छ भारत मुहिम को सफल बनाने की दिशा में अपना सक्रिय योगदान दें। उपायुक्त ने कहा कि इस मुहिम के तहत पूरे देश के 744 जिलों से 75 लाख किलोग्राम कचरे को एकत्रित करने का लक्ष्य रखा गया है।

जिसके तहत देश के 2.50 लाख गांवों को कवर किया जाना है। यानी औसतन  प्रत्येक गांव से करीब 30 किलोग्राम प्लास्टिक कचरा एकत्रित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस मुहिम के तहत विशेष तौर से पर्यटक स्थलों, शैक्षणिक संस्थानों, बस स्टैंड और बाजार जैसे हॉट स्पॉट पर भी पूरा फोकस किया जाए।