हिमाचल बजट 2022: मिड-डे मील वर्कर्स, एसएमसी शिक्षकों सहित इन कर्मियों का बढ़ा मानदेय

ByPRIYANKA THAKUR

Mar 4, 2022
60-people-registered-on-the.jpg

HNN / शिमला

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर आज अपने कार्यकाल का आखरी एवं पांचवां बजट पेश कर रहे हैं। अब तक पेश किए गए बजट में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने जहां पंचायत प्रतिनिधियों का मानदेय बढ़ाने सहित तीन एलपीजी सिलेंडर मुफ्त देने की घोषणा की है तो वही उन्होंने कर्मियों के मानदेय बढ़ाने की भी घोषणा की है।

बता दें कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को 9000 रुपये प्रतिमाह मानदेय, मिनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को 6100 रुपये प्रतिमाह मानदेय, आंगनबाड़ी सहायिका को 4700 रुपये प्रतिमाह मानदेय, आशा वर्कर्स को 4700 रुपये प्रतिमाह मानदेय, सिलाई अध्यापिकाओं को 7950 रुपये प्रतिमाह मानदेय, मिड डे मील वर्कर्स को 3500 रुपये प्रतिमाह मानदेय, वाटर कैरियर शिक्षा विभाग 3900 रुपये प्रतिमाह मानदेय बढ़ाने की घोषणा की है।

वही, जल रक्षक को 4500 रुपये प्रतिमाह मानदेय, जलशक्ति विभाग में मल्टी पर्पज वर्कर्स को 3900 रुपये प्रतिमाह मानदेय, पैरा फिटर, पंप ऑपरेटर को 5550 रुपये प्रतिमाह मानदेय, दिहाड़ीदारों की दिहाड़ी 50 रुपये बढ़ाई, आउटसोर्स को अब न्यूनतम 10500 रुपये प्रति माह मिलेंगे, पंचायत चौकीदार को 6500 रुपये प्रति माह मिलेंगे।

राजस्व चौकीदार को 5000 रुपये प्रति माह , राजस्व लंबरदार को 3200 रुपये प्रति माह, एसएमसी शिक्षकों का मानदेय 1000 रुपये प्रतिमाह बढ़ाने की घोषणा की गई। वही, आईटी टीचर को 1000 रुपये प्रतिमाह और एसपीओ को 900 रुपये प्रतिमाह बढ़ाने की घोषणा की गई।

The short URL is: