मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना के अंतर्गत बेरोजगार युवाओं को किया जा रहा आत्मनिर्भर बनाने का प्रयास

BySAPNA THAKUR

Mar 1, 2022
Efforts-are-being-made-to-m.jpg

HNN/ कांगड़ा

प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना के अंतर्गत जिले के अधिकतम बेरोजगार युवक एवं युवतियों को आत्मनिर्भर बनाने का प्रयास किया जा रहा है। यह जानकारी एडीसी राहुल कुमार ने जिला उद्योग केन्द्र में मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना के अंतर्गत आयोजित जिला स्तरीय बैठक की अध्यक्षता करते हुए दी। उन्होंने बताया कि इस योजना के अंतर्गत 18 से 45 वर्ष आयु के हिमाचल के स्थायी निवासी युवक तथा 18 से 50 वर्ष तक की महिलाएं एक करोड़ रुपए की परियोजना लागत पर 60 लाख तक के ऋण पर क्रमशः 25 तथा 30 प्रतिशत तथा विधवाएं 35 प्रतिशत अनुदान के लिए पात्र हैं।

एडीसी ने बताया कि इस बैठक में मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना के अंतर्गत कुल 107 मामले प्राप्त हुए जिसमें से 82 मामलों में स्वीकृति प्रदान की गई जिस पर 20.42 करोड़ रुपए व्यय किए जायेंगे। उन्होंने बताया कि इस योजना के अन्तर्गत इस बैठक में अनेक नए प्रस्ताव प्राप्त हुए जिनमें पेट्रोल पम्प, मशरूम यूनिट, एडवांस न्यूरो फिजियोथेरेपी सेंट, हार्वेस्टर, लेमन ग्रामस प्रसंस्करण इकाई, डेयरी यूनिट्स, गुड्स कैरियर इत्यादि शामिल हैं।

इसके अलावा अन्य गतिविधियों में कैम्पिंग साइट्स, होटल, शौपिंग माल, रेस्टोरेंट आदि शामिल हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत कुछ नई परियोजनाओं को शामिल किया गया है जिसमें एम्बुलेंस, ईवी चार्जिंग स्टेशन, पेट्रोल पम्प, ऑक्सीजन टैंकर, सर्वेयर यूनिट्स, एग्रो टूरिज्म, टिश्यू कल्चर, दुग्ध उत्पाद के लिए कोल्ड स्टोरेज, डेयरी फार्मिंग इत्यादि को शामिल किया गया है। इस योजना का लाभ उठाने के लिए अधिक जानकारी के लिए आवेदक प्रसार अधिकारी (उद्योग) से खंड विकास अधिकारी के कार्यालय अथवा दूरभाष नम्बर 01892-223242 पर सम्पर्क कर सकते हैं।

The short URL is: