मां भंगायनी मंदिर से शिव प्रतिमा तक लगेगी रोशनियां व फव्वारे, खर्च होंगे 85 लाख….

BySAPNA THAKUR

Sep 26, 2021

HNN/ संगड़ाह

विकास खंड संगड़ाह के अंतर्गत आने वाले सिरमौर के प्रसिद्ध धार्मिक स्थल हरिपुरधार को अब पर्यटन की दृष्टि से भी विकसित किया जाएगा। यह जानकारी बीडीसी संगड़ाह के अध्यक्ष एवं पंचायत समिति अध्यक्ष परिषद के राज्य उपाध्यक्ष मेलाराम शर्मा ने दी। हिमाचल प्रदेश समिति अध्यक्ष परिषद के उपाध्यक्ष चुने जाने के बाद पहली बार हरिपुरधार पधारने पर स्थानीय लोगों द्वारा शर्मा का नागरिक अभिनंदन किया गया।

उन्होंने कहा कि, हरिपुरधार को पर्यटन के रूप में विकसित करने के लिए 85 रुपए की एक विस्तृत परियोजना मंजूरी के लिए प्रदेश सरकार को भेजी गई है। इसी संदर्भ में मेलाराम शर्मा के साथ सिरमौर जिला भाजपा के उपाध्यक्ष बलबीर ठाकुर गत दिनों शिमला में पर्यटन विभाग के प्रधान सचिव सुभाशीष पांडा से भी मिले और उनसे हरिपुरधार के लिए 85 लाख रुपए की पर्यटन विकास परियोजना शीघ्र स्वीकृत करने का आग्रह किया।

उन्होंने प्रधान सचिव को चुनवी से हरिपुरधार तक 8 किलोमीटर सडक़ मार्ग को शीघ्र पक्का करने के लिए अलग से बजट उपलब्ध कराने का आग्रह भी किया। उन्होंने बताया पर्यटन एवं लोक निर्माण विभाग के प्रधान सचिव ने हरिपुरधार की पर्यटन विकास परियोजना को शीघ्र हरी झंडी देने का आश्वासन दिया और साथ में चुनवी से हरिपुरधार की सडक़ को पक्का करने के लिए बजट उपलब्ध कराने का भी आश्वासन दिया।

मेलाराम शर्मा ने बताया कि हरिपुरधार के लिए 85 लाख की लागत वाली पर्यटन विकास परियोजना जिला पर्यटन अधिकारी द्वारा तैयार करके उपायुक्त के माध्यम से हिमाचल सरकार के पर्यटन विभाग को भेजी गई है। इस परियोजना के तहत मां भंगायनी मंदिर परिसर से शिव प्रतिमा तक के मार्ग में रोशनीयां लगाई जाएगी और इस रास्ते में फाउंटेंस के साथ-साथ फुलवरियां भी तैयार की जाएगी। इस परियोजना के तहत मंदिर परिसर के निकट कैफेटेरिया तथा अनेक पिकनिक सपाट बनाए जाएंगे। इसके अतिरिक्त हरिपुरधार से प्राचीन किला एवं वन विभाग के विश्रामगृह तक टूरिस्ट ट्रैक तैयार किए जाएंगे।

The short URL is: