नाहन शहर को कचरा मुक्त करने में सफाई साथी होंगे अहम

BySAPNA THAKUR

Feb 23, 2022
Sanitation-partners-will-be.jpg

HNN/ नाहन

स्वच्छ भारत मिशन की ओर नाहन नगर परिषद ने एक और कदम आगे बढ़ाया है। शहर कचरा मुक्त हो इसके लिए सफाई साथियों को तैनाती दी गई है। यह सफाई साथी ऐसी जगह डोर टू डोर कचरा कलेक्ट करेंगे जहां वाहन जा पाना असंभव है। बता दें कि नाहन शहर रियासत कालीन शहर है जहां पर तंग गलियां और सटे हुए मकान हैं। चूंकि, नाहन नगर परिषद के द्वारा पहले से ही डोर टू डोर गार्बेज कलेक्शन की बेहतर व्यवस्था की हुई है।

बावजूद इसके शहर के कई हिस्सों से डोर टू डोर गार्बेज कलेक्शन को लेकर शिकायतें भी आ रही थी। नगर परिषद के पार्षदों के द्वारा इस पर किए गए गहन मंथन के बाद सफाई साथियों की ओर सुझाव दिया गया। मनोनीत पार्षद अमित अत्रि ने बताया कि इस सुझाव पर बगैर कोई देरी किए सफाई साथी लगा दिए गए हैं। उन्होंने यह भी बताया कि यह सफाई साथी घर-घर जाकर कचरा कलेक्ट करेंगे। वही, नगर परिषद ने लोगों से भी अपील करी है कि वह कचरे को पृथक कर अलग-अलग डस्टबिन से दें।

यहां यह भी जानना जरूरी है कि प्रदेश में भी कचरा प्रबंधन एक्ट लागू हो चुका है। जिसके तहत घर के कचरे को गीला-सूखा श्रेणी के तहत पृथक करके ही सफाई साथी को दिया जाए। वही नगर परिषद के द्वारा यह भी सुनिश्चित किया गया है कि यदि कोई सफाई साथी अथवा सफाई कर्मी गार्बेज कलेक्शन नहीं करता है तो उसके लिए एक शिकायत निवारण नंबर भी जारी किया गया है। शिकायतकर्ता 9418616600 पर अपनी शिकायत दे सकता है।

यही नहीं डोर टू डोर शिकायत नंबर के लिए व्हाट्सएप नंबर भी जारी किया गया है जिसमें 9418616605 पर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं। अब यह भी जान लेना जरूरी है कि आप सफाई कर्मचारी की तो शिकायत कर सकते हैं मगर खुद कचरा फैलाते हुए पाए गए तो उस पर दंड का प्रावधान भी किया गया है। आर्थिक दंड के तौर पर 500 से लेकर 10000 रूपए तक का जुर्माना लगाए जाने का प्रावधान रखा गया है।

वही नगर परिषद की अध्यक्ष श्यामा पुंडीर ने शहरवासियों से अपील करते हुए कहा कि शहर को स्वच्छ बनाने में वह अपना नैतिक दायित्व भी निभाए। उन्होंने कहा कि शहर स्वच्छ होगा पर शहर के लोग स्वस्थ भी होंगे।

The short URL is: