नाहन में बढ़ती मंहगाई व निजीकरण के खिलाफ सड़क पर उतरी ट्रेड यूनियन

ByPRIYANKA THAKUR

Mar 28, 2022
Trade unions came out on the road against the rising inflation and privatization in Nahan

बस स्टैंड से लेकर डीसी कार्यालय तक निकाली विरोध रैली , सरकार के खिलाफ जमकर किया प्रदर्शन

HNN / नाहन

राष्ट्रव्यापी हड़ताल के तहत सोमवार को जिला मुख्यालय नाहन में ट्रेड यूनियन के बेनर तले सैंकड़ों की संख्या में श्रमिकों ने विरोध रैली निकाली। इस दौरान बस स्टैंड से लेकर शहर के विभिन्न हिस्सों से होते हुए प्रदर्शनकारियों ने डीसी कार्यालय परिसर में धरना दिया। प्रदर्शनकारियों ने बढ़ती महंगाई, सार्वजनिक संस्थानों का निजीकरण सहित मजदूर विरोधी नीतियों को लेकर केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। सीटू के राज्य सचिव राजेंद्र ठाकुर ने केंद्र सरकार को मजदूर, किसान व कर्मचारी विरोधी करार दिया।

उन्होंने कहा कि आज सरकार तानाशाही के रूप में कार्य कर रही है और मजदूरों का शोषण किया जा रहा है। 44 श्रम कानूनों को सरकार ने खत्म किया। किसानों को एमएसपी नहीं दे पा रही है। सार्वजनिक संस्थानों का निजीकरण किया जा रहा है, जिसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि महंगाई भी प्रतिदिन बढ़ रही है। रसोई गैस, पैट्रोल-डीजल इत्यादि की कीमतें लगातार बढ़ रही है। बावजूद इसके मजदूरों की दिहाड़ी में बढ़ोतरी नहीं हो पा रही है। आज सरकार आउटसोर्स व अंशकालीन आधार पर नौकरियां दी जा रही है। लिहाजा इन्हें नियमित करना होगा।

21 हजार रूपए न्यूनतम वेतन मजदूर को दिया जाए। राजेंद्र ठाकुर ने कहा कि सांसदों व विधायकों को पेंशन दी जा रही है, जिसके चलते मजदूरों में रोष है। 10-10 महीने से मनरेगा के मजदूरों को वेतन नहीं दिया जा रहा है। महज 200 रूपए दिहाड़ी दी जा रही है। उन्होंने कहा कि यbदि सरकार ने मांगों को जल्द पूरा नहीं किया तो आंदोलन ओर अधिक उग्र होगा। बता दें कि प्रदर्शन में आंगनबाड़ी वर्कर्स, अंशकालिक मजदूर, मिड-डे मिल सहित काफी संख्या में श्रमिक शामिल हुए और सरकार के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया।

इस मौके पर सीटू जिला अध्यक्षा बीना शर्मा, उपाध्यक्ष लाल सिंह, कोषाध्यक्ष आशीष कुमार, अरुण कुमार, इंटर के महासचिव कौशर रहमान, रमजान मोहम्मद, राजबाला, बबली, एटक के महासचिव पूरन चंद, राजेश कुमार, प्रवीण कुमार, तोताराम शर्मा, नीलम शर्मा, सतपाल मान, अमित चौहान, राहुल शर्मा, लता शर्मा आदि सैकड़ों लोग मौजूद थे।

The short URL is: