‘‘टीवी हारेगा देश जीतेगा’’ अभियान से टीबी उन्मूलन का सपना होगा साकार: सीएमओ

BySAPNA THAKUR

Mar 4, 2022
The-dream-of-eradicating-TB.jpg

HNN/ धर्मशाला

मुख्य चिकित्सा अधिकारी कांगड़ा, डॉ. गुरुदर्शन ने कहा कि राष्ट्रीय क्षय रोग उन्मूलन के तहत ‘‘टीवी हारेगा देश जीतेगा’’ अभियान से भारत के सपने को साकार करने के लिए स्वास्थ्य विभाग प्रतिबद्ध है। हसको लेकर जिले में समुदाय स्तर पर व्यापक अभियान चलाया जाएगा। सीएमओ जोनल अस्पताल धर्मशाला के सभागार में ‘‘टीवी हारेगा देश जीतेगा’’ अभियान को लेकर आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए बोल रहे थे। इस बैठक में मुख्य रूप से सभी स्वास्थ्य खंड मुख्यालय में तैनात हेल्थ एजुकेटर, सुपरवाइजर और कम्युनिटी हेल्थ अधिकारियों ने भाग लिया।

टीवी उन्मूलन अभियान को जन आंदोलन बनाने की आवश्यकता
सीएमओ ने कहा कि टीवी उन्मूलन के अभियान को जन आंदोलन बनाने की आवश्यकता है और आम जनमानस को इसमें अपनी सहभागिता सुनिश्चित करनी होगी तभी हम इस रोग को मिटा पाएंगे। उन्होंने कहा टीबी अब असाध्य बीमारी नहीं है अब इसका इलाज सरल है तथा समय पर इलाज करवाने से रोगी पूर्णतया स्वस्थ हो जाता है। उन्होंने लोगों से अपील की कि वह इस बीमारी को छुपाए नहीं और लक्षण होने पर तुरंत अपनी जांच करवाएं।

टीवी का इलाज व जांच हर एक स्वास्थ्य केंद्र पर निःशुल्क है। उन्होंने बताया कि मार्च महीने में “टीवी हारेगा-देश जीतेगा” अभियान के तहत पूरे जिला में जन जागरण की अलग-अलग गतिविधियां आयोजित की जाएंगी। उन्होंने इसके बारे में सभी आए हुए प्रतिभागियों के साथ विस्तृत में चर्चा की। स्वास्थ्य कर्मचारियों ने ली ‘‘टीबी हारेगा-देश जीतेगा’’ अभियान की शपथ इस अवसर पर सभागार में उपस्थित सभी स्वास्थ्य कर्मचारियों को ‘‘टीबी हारेगा-देश जीतेगा’’ अभियान की शपथ दिलाई गई।

सभी स्वास्थ्य कर्मचारियों ने शपथ ली कि वे पूरे जीवन काल में अपने परिवार, अपने सहकर्मी और पड़ोसी को क्षय रोग के लिए जागरूक करेंगे, लोगों को खांसने के सही तरीके का पालन करने के लिए प्रेरित करेंगे। टीबी रोग की रोकथाम संबंधी जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से स्वास्थ्य विभाग की ओर से पूरे मार्च महीने में जिले के सभी हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर के कर्मचारियों द्वारा अपने-अपने क्षेत्रों में लोगों के बीच जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। उनके द्वारा लोगों को टीबी रोग के लिए जागरूक करने के साथ-साथ इस बीमारी के प्रति सतर्क रहने के जागरूक किया जाएगा।

डॉ.गुप्ता ने कहा कि अभियान के सफल आयोजन के लिए स्वास्थ्य विभाग बड़े पैमाने पर चौतरफा रणनीति के साथ मैदान में उतर रहा है जिसमें इस बीमारी के कारणों को लोगों तक पहुंचाना, जिससे वो जागरूक हों, दूसरा टीबी की बीमारी के चपेट में आये लोगो की पहचान कर उनको इलाज दिलाना और तीसरा वर्तमान में जो टीबी के मरीज जिला भर में हैं उनको उच्चतम स्तर की स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करवाना स्वास्थ्य विभाग का लक्ष्य है। ‘‘टीबी हारेगा-देश जीतेगा’’ का नारा 2025 तक जिला को टीबी की बीमारी से मुक्ति दिलाएगा।

The short URL is: