HNN/ शिमला

हिमाचल प्रदेश में भारी बर्फबारी से जहां कई सड़कों पर वाहनों के पहिए थमे हुए हैं तो कई जगह बिजली ट्रांसफार्मर भी ठप पड़े हुए हैं जिससे लोगों को भारी असुविधा का सामना करना पड़ रहा है। ट्रांसफार्मर ठप होने से कई क्षेत्र अंधेरे के आगोश में आ गए हैं। इतना ही नहीं भारी बर्फबारी से पेयजल योजनाएं भी प्रभावित हुई है। सड़क, बिजली और पेयजल योजनाएं प्रभावित होने से लोगों को परेशानियां झेलनी पड़ रही है।

बता दें कि प्रदेश भर में बीते कुछ दिनों से बर्फबारी का क्रम लगातार जारी है। बर्फबारी होने के चलते प्रदेश में चार नेशनल हाईवे सहित 248 सड़कें वाहनों की आवाजाही के लिए पूरी तरह से बंद पड़ी हुई है। नेशनल हाईवे-5 नारकंडा में, एनएच 305 जलोड़ी जोत में, एनएच मनाली-लेह और एनएच 154 भरमौर-पठानकोट वाहनों के लिए अवरुद्ध रहा।

लाहुल-स्पीति में 137, किन्नौर में 51, मंडी में 28, कुल्लू में 16, शिमला में 10 और चंबा में छह सड़कें बंद हैं। इसके अलावा 140 बिजली ट्रांसफार्मर भी बंद है। तो वहीँ, 39 पेयजल योजनाएं भी प्रभावित हो गई है। इतना ही नहीं प्रदेश में एचआरटीसी के 250 रूट भी प्रभावित रहे।